अंतराष्ट्रीय

इमरान की राजनीती के चलते गयी एक पत्रकार की जान!

इमरान के कंटेनर ने पत्रकार को कुचला:उन्हें धक्का दिया गया, सवाल- यह हादसा है या हत्या

( PUBLISHED BY – SEEMA UPADHYAY )

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान के लॉन्ग मार्च में रविवार को कंटेनर से कुचलकर एक महिला पत्रकार की मौत हो गई। बताया जाता है कि उन्हें धक्का दिया गया था। इससे सवाल उठता है कि यह हत्या है या नहीं।

A female journalist was crushed to death by a container on Sunday in the Long March of former Pakistan Prime Minister Imran Khan. He is said to have been pushed. This raises the question whether it is murder or not.

अपनी जान गंवाने वाली सदफ नईम चैनल 5 की रिपोर्टर थीं। वह इस लंबे मार्च को कवर कर रही थीं। उन्होंने एक दिन पहले इमरान का इंटरव्यू भी लिया था। शरीफ सरकार से इस्तीफे की मांग को लेकर इमरान शाहबाज लाहौर से इस्लामाबाद तक लंबा मार्च निकाल रहे हैं।

Sadaf Naeem, who lost her life, was a reporter for Channel 5. She was covering this long march. He had also interviewed Imran a day earlier. Imran Shahbaz is taking out a long march from Lahore to Islamabad demanding the resignation of the Sharif government.

रिपोर्ट्स के मुताबिक, सदफ इमरान के कंटेनर में सवार था। इसी बीच वहां मौजूद लोगों में से किसी ने उसे धक्का दिया, सदफ कंटेनर से नीचे गिर गया। कंटेनर का पहिया उसकी गर्दन पर फिसल गया। सदफ की मौके पर ही मौत हो गई।

According to reports, Sadaf was in Imran’s container. Meanwhile, someone from the people present there pushed him, Sadaf fell down from the container. The wheel of the container slipped on his neck. Sadaf died on the spot.

पहले जानिए घटना कैसे हुई ( First know how the incident happened )

  • इमरान ने लॉन्ग मार्च की शुरुआत शुक्रवार को लाहौर से की। वह चार नवंबर को इस्लामाबाद पहुंचेंगे और वहां अनिश्चितकालीन धरना देंगे। खान ने मांग की है कि शाहबाज शरीफ को प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा दे देना चाहिए और देश में तत्काल आम चुनाव कराना चाहिए।
  • Imran started the Long March from Lahore on Friday. He will reach Islamabad on November 4 and will hold an indefinite dharna there. Khan has demanded that Shahbaz Sharif should resign from the post of Prime Minister and immediate general elections should be held in the country.
  • ‘जियो न्यूज’ के मुताबिक इमरान का काफिला रविवार को गुजरांवाला के पास कामोकी पहुंचा था. इमरान जिस कंटेनर में सवार हैं, उस पर कुछ पत्रकार भी मौजूद थे। सदफ नईम उनमें से एक थे।
  • According to ‘Geo News’, Imran’s convoy had reached Kamoki near Gujranwala on Sunday. Some journalists were also present on the container in which Imran is boarding. Sadaf Naeem was one of them.
  • रिपोर्ट के मुताबिक, कंटेनर पर मौजूद किसी ने सदफ को धक्का दिया और वह जमीन पर गिर गई. इसी बीच कंटेनर का पहिया उसकी गर्दन के ऊपर से गुजर गया। शोर ऐसा था कि उसके गिरने की चीख भी ज्यादा सुनाई नहीं दी। इसकी फुटेज भी सामने आई है। कुछ रिपोर्टों में कहा गया है कि सदफ इमरान के कंटेनर के बगल में एक अन्य वाहन में यात्रा कर रहे थे।
  • According to the report, someone present on the container pushed Sadaf and she fell on the ground. Meanwhile the wheel of the container passed over his neck. The noise was such that even the scream of his fall was not heard much. Its footage has also surfaced. Some reports said that Sadaf was traveling in another vehicle next to Imran’s container.

एक दिन के लिए मार्च रुका ( march stopped for a day )

  • घटना के बाद इमरान खान ने मार्च को एक दिन के लिए रोकने की घोषणा की। उन्होंने सदफ को एक बहादुर और अच्छा पत्रकार बताया। खान ने कहा- इस हादसे से बेहद दुखी हूं। मैं मार्च को एक दिन के लिए रोक रहा हूं।
  • After the incident, Imran Khan announced to stop the march for a day. He described Sadaf as a brave and good journalist. Khan said- I am deeply saddened by this accident. I am stopping March for a day.
  • सदफ ने शनिवार रात ही इमरान खान का खास इंटरव्यू किया और इसे अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर भी किया। लाहौर पुलिस ने कहा है कि वह मामले की जांच कर रही है।
  • Sadaf did a special interview of Imran Khan on Saturday night itself and also shared it on his social media account. Lahore Police has said that it is investigating the matter.
  • प्रधानमंत्री शाहबाज शरीफ ने भी हादसे पर दुख जताया है। कहा- मैं सदफ के परिवार के लिए भी बहुत चिंतित हूं। हमारी सरकार उनके परिवार की मदद करेगी। सदफ का करियर भले ही छोटा रहा हो, लेकिन उनके पास काफी ज्ञान था।
  • Prime Minister Shahbaz Sharif has also expressed grief over the accident. Said- I am also very worried for Sadaf’s family. Our government will help his family. Sadaf’s career may have been short, but he had a lot of knowledge.

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button