स्वास्थ्य

डायबिटीज पेशेंट को होता है इस सिंड्रोम का खतरा…

डायबिटीज पेशेंट को रहता है डेंगू शॉक सिंड्रोम का ज्यादा खतरा, जानें क्या है बिमारी और इसके लक्षण

( PUBLISHED BY – SEEMA UPADHYAY )

What is Dengue shock syndrome : देश में लंबे मानसून के बाद अब एक बार फिर डेंगू का कहर बरपा रहा है. उत्तर भारत समेत देश के कई राज्यों में डेंगू खतरनाक स्थिति में पहुंच गया है। दिल्ली, यूपी, हरियाणा में अचानक डेंगू का प्रकोप देखने को मिला और देखते ही देखते हजारों मामले सामने आ गए, वहीं कई लोगों की इससे मौत भी हो गई. डेंगू एडीज मच्छर के काटने से होता है और इससे पीड़ित मरीज में प्लेटलेट्स तेजी से गिरने लगते हैं।

What is Dengue shock syndrome : After a long monsoon in the country, now once again dengue is wreaking havoc. Dengue has reached a dangerous situation in many states of the country including North India. There was a sudden outbreak of dengue in Delhi, UP, Haryana and thousands of cases came to the fore, while many people also died due to this. Dengue is caused by the bite of the Aedes mosquito and the platelets start falling rapidly in the patient suffering from it.

डेंगू के ज्यादातर मामले हल्के होते हैं लेकिन कई मामले बेहद गंभीर हो जाते हैं। मधुमेह रोगियों में डेंगू के लक्षण विकसित होने की अधिक संभावना होती है क्योंकि यह रोग रक्त में ग्लूकोज के स्तर को बढ़ा सकता है। मधुमेह के रोगियों को कई अन्य बीमारियों का खतरा अधिक होता है और डेंगू कोई अपवाद नहीं है।

Most cases of dengue are mild but many cases can become very serious. Diabetics are more likely to develop symptoms of dengue as the disease can increase the level of glucose in the blood. Patients with diabetes are more prone to many other diseases and dengue is no exception.

स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि अनियंत्रित रक्त शर्करा के स्तर वाले लोगों को विशेष रूप से डेंगू की दुर्लभ जटिलताओं जैसे कि डेंगू शॉक सिंड्रोम के विकसित होने का उच्च जोखिम होता है। इससे तेज बुखार, लीवर खराब हो जाता है और उनमें भारी रक्तस्राव होता है।

Health experts say people with uncontrolled blood sugar levels are particularly at high risk of developing rare complications of dengue such as dengue shock syndrome. This causes high fever, liver damage and heavy bleeding.

क्या है डेंगू शॉक सिंड्रोम ( What is dengue shock syndrome ? )

डेंगू शॉक सिंड्रोम एक ऐसी स्थिति है जो तेज बुखार और नाक और मसूड़ों से खून बहने की विशेषता है। यह लसीका और रक्त कोशिकाओं को नुकसान पहुंचाता है। डेंगू शॉक सिंड्रोम में मरीज का सर्कुलेटरी सिस्टम खराब होने लगता है। यदि प्रारंभिक अवस्था में इसे नियंत्रित नहीं किया जाता है, तो यह सदमे, भारी रक्तस्राव से लेकर मृत्यु तक का कारण बन सकता है।

अगर आप डायबिटीज से पीड़ित हैं तो डेंगू से बचने के लिए इन टिप्स को फॉलो करना आपके लिए जरूरी है।

  • डायबिटी रोगियों को बुखार आने को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए, अगर ब्लड शुगर कंट्रोल में नहीं है तो हल्का सा भी बुखार आने पर तुरंत जांच करानी चाहिए.
  • ब्लड टेस्ट से डेंगू को शुरुआती दिनों में ही पकड़ा जा सकता है और इसे आउट ऑफ कंट्रोल होने से पहले ही रोका जा सकता है.
  • डेंगू से बचने के लिए डायबिटीज पेशेंट को अपने ब्लड शुगर को कंट्रोल करना होगा ताकि इसके गंभीर जटिलताओं के जोखिम को कम किया जा सके.

घर पर करें ये जरूरी काम

  • डेंगू का मच्छर जलभराव वाली जगह पर पनते हैं इसलिए डेंगू के अटैक से बचने के लिए बेहद जरूरी है कि आप मच्छरों से बढ़ने से रोकने के उपाय किए जाएं.
  • घर में मच्छर अधिक होने पर सोते समय मच्छरदानी का प्रयोग करें और अपने गमलों के आसपास पानी न जमा होने दें. संभव हो तो पेड़ पौधों को कुछ दिनों तक सूखा रखें.
  • बॉथरूम में टब या फिर बॉल्टी में पानी जमा करके न रखें.
  • बच्चों को पूरी बांह के कपड़े पहनाएं और शाम के समय पार्क या फिर बाहर जाने से रोकें.

Buland Hindustan

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
गुप्त नवरात्रि पूजा विधि Avatars of lord shiva Stationery essential that every student must have MAANG TIKKA Benefits of curd गणेश जी को अर्पित करे ये चीज़ Most Mysterious Places In India 10 Greatest Lamborghini cars ever made शुक्रवार के दिन करे यह 10 उपाय 10 unusual fruits