राष्ट्रीय

Twin Towers Demolition – केवल 9 सेकेंड… 

Twin Towers Demolition: आ ही गया ट्विन टावर के ध्‍वस्‍त होने का दिन, केवल 9 सेकेंड में धराशायी हो जाएगी यह गगनचुंबी इमारत

( PUBLISHED BY – SEEMA UPADHYAY )

देश की सबसे ऊंची अवैध मीनार, जो कुतुबमीनार से भी ऊंची है और भ्रष्टाचार की नींव पर खड़ी है, रविवार दोपहर इतिहास बन जाएगी। इन टावरों के ढहने से आसपास के टावरों में रहने वाले लोगों का षडयंत्र टूट जाएगा और भ्रष्टाचार का अहंकार भी टूट जाएगा। लोगों की जिंदगी से सूरज की धूप छीनने वाले ये टावर रविवार दोपहर 2.30 बजे महज नौ से 12 सेकेंड में मिट्टी में मिल जाएंगे. इसके लिए शनिवार देर शाम तक तैयारियां चलती रहीं।

जोर-शोर से चल रही है आखिरी तैयारी

जेट डिमोलिशन, एडफिस इंजीनियरिंग और सीबीआरआई की टीमों ने टावर के अंदर विस्फोटकों से जुड़े तारों की जांच जारी रखी और ट्रिगर दबाने की तैयारियों को अंतिम रूप दिया। नोएडा अथॉरिटी और पुलिस के अधिकारी आसपास की व्यवस्था को ठीक करने में जुटे हैं.

एपेक्स 103 मीटर और सियान 97 मीटर ऊंचा है

सेक्टर-93-ए में बने 103 मीटर ऊंचे एपेक्स और 97 मीटर ऊंचे सियान टावर को गिराने के लिए अलग-अलग मंजिलों पर 3700 किलो विस्फोटक लगाया गया है. सुरक्षा कारणों से एमराल्ड कोर्ट और आसपास की सोसायटी के करीब पांच हजार लोगों को रविवार सुबह सात बजे तक फ्लैट खाली करा दिए जाएंगे। इसके अलावा करीब तीन हजार वाहन और 200 पालतू जानवरों को भी बाहर निकाला जाएगा।

पुलिस से क्लीयरेंस मिलने के बाद ही दबेगा ट्रिगर

एडफिस इंजीनियरिंग के प्रोजेक्ट मैनेजर मयूर मेहता ने कहा कि पुलिस से मंजूरी मिलने के बाद दोपहर 2.30 बजे ट्रिगर दबाया जाएगा। डीसीपी ट्रैफिक गणेश पी साहा ने बताया कि डायवर्जन को लागू करने का काम देर रात पूरा कर लिया गया. नोएडा-ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेसवे 2:15 से 2:45 बजे तक बंद रहेगा.

धूल का गुबार दिखा तो बंद रहेगा एक्सप्रेस-वे

यदि एक्सप्रेस-वे के किनारे धूल का गुबार रहता है तो उसे कुछ और समय के लिए बंद रखा जा सकता है। एक्सप्रेस-वे के बंद होने की जानकारी करीब सवा घंटे पहले गूगल मैप पर दिखने लगेगी, इसलिए वैकल्पिक रास्ता भी गूगल मैप बता देगा।

400 पुलिसकर्मी हुए है तैनात

डीसीपी सेंट्रल राजेश एस ने बताया कि करीब 400 पुलिसकर्मियों के साथ ही पीएसी और एनडीआरएफ के जवानों को भी तैनात किया जाएगा. सीएमओ डॉ सुनील शर्मा ने बताया कि छह एंबुलेंस मौके पर ही रहेंगी और जिला अस्पताल के साथ-साथ फेलिक्स व रियलिटी अस्पताल में भी बेड रिजर्व कर दिए गए हैं.

60 हजार टन मलबा निकलेगा

नोएडा अथॉरिटी की सीईओ रितु माहेश्वरी ने बताया कि दोनों टावरों से करीब 60 हजार टन मलबा निकलेगा. जिसमें से करीब 35 हजार टन मलबा का निस्तारण किया जाएगा। विध्वंस के बाद की धूल को साफ करने के लिए कर्मचारी, स्वीपिंग मशीन, एंटी स्मॉग गन और वाटर स्प्रिंकलर साइट पर मौजूद रहेंगे।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button