राजनीति

RAIPUR : निगम घेराव के दौरान DSP से मारपीट, बीजेपी के 100 नेताओं पर FIR…

RAIPUR : निगम घेराव के दौरान DSP से मारपीट, बीजेपी के 100 नेताओं पर FIR...

PUBLISHED BY-PIYUSH NAYAK

RAIPUR :रायपुर की पुलिस ने 100 से अधिक भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं पर FIR दर्ज की है। गुरुवार को रायपुर में हुए नगर निगम घेराव के बाद ये कार्रवाई की गई है। आरोप है कि भाजपा नेताओं ने पुलिस कर्मियों को पीटा, महिला पुलिस से अभद्र व्यवहार किया, कंधे पर लगे स्टार खींचे। निगम मुख्यालय कैम्पस में तोड़-फोड़ की और सरकारी संपत्ति का नुकसान किया। एक पुलिसकर्मी और दूसरी निगम के ही जोन 4 के कमिश्नर की शिकायत पर दो FIR दर्ज की गई है।पहले मामले में बताया गया है कि भाजपा के नेता निगम ऑफिस की बालकनी पर चढ़ने के चक्कर में गेट में लगे लोहे की ग्रिल पर चढ़े। पुलिस के द्वारा मना किये जाने पर मारपीट की और गालियां देने लगे। दावा किया गया है पुलिस कॉन्स्टेबल रवि पोडियाम से भी मारपीट की गई उसके कान के पास चोट लगी है। महिला आरक्षक मंजू मिंज की आंख मे गीली मिट्‌टी का गोला बनाकर मारा गया है।

RAIPUR
RAIPUR

फुलेश्वरी नेताम के साथ मारपीट की गई। कालर पकड़कर कंधे पर लगे स्टार को खीचे गए हैं। उप पुलिस अधीक्षक (DSP) ज्योत्सना चौधरी के गले मे भी मारपीट से चोट खरोंच आई है। RAIPUR इस मामले में भाजपा कार्यकर्ता हरीश साहू, राहुल राय, बजरंग ध्रुव,शुभाकंर द्विवेदी, मृत्युजंय दुबे, प्रणय साहू ,सचिन मेघानी, विकास शुक्ला, संदीप कसार, हर्षिला रूपाली शर्मा, नीतू ठाकुर समेत 50 साथियों पर केस दर्ज किया गया है।

RAIPUR
RAIPUR

जोन कमिश्नर की कम्प्लेन

दूसरे मामले में जोन 4 के कमिश्नर ने शिकायत की है कि भाजपा के प्रदर्शन के दौरान निगम बिल्डिंग के मुख्य दरवाजे के लोहे के ग्रिल चैनल , खिडकी के कांच , गमले तोड़ दिए गए। RAIPUR शासकीय निगम भवन के बालकनी मे राजनैतिक झंडा लगाया गया है। इस कांड को करने वालों में शिव जलम दुबे, कृष्णा देवांगन, सोनू राजपूत, शुभांकर द्विवेदी , प्रखर मिश्रा औन इनके 50-60 साथी शामिल थे। इन सभी के खिलाफ पुलिस ने केस दर्ज किया है। FIR में करीब 1 लाख रूपये के नुकसान की बात भी कही गई है।

Also read :https://bulandmedia.com/5217/ind-vs-nz/

कांग्रेस ने बता दिया गुंडागर्दी

भाजपा के नगर निगम घेराव पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने पूर्व रमन सरकार की कमीशनखोरी घोटाले बाजी की जांच होने से तिलमिलाए भाजपा के भ्रष्ट नेताओं ने भाजपा के कार्यकर्ताओं को बहला-फुसलाकर नगर निगम का घेराव करने ले गए थे। असल मायने में भाजपा के भ्रष्ट नेताओं का मूल मकसद निगम में जनहित के विषय पर चर्चा करना नहीं था बल्कि स्वहित जुड़ा था। RAIPUR इसीलिए भाजपा के घेराव में शामिल गुंडों ने सरकारी संपत्ति को क्षति पहुंचाई तोड़फोड़ की गुंडागर्दी की और वहां अभद्रता की है।

RAIPUR
RAIPUR

हम FIR से डरने वाले नहीं

निगम मुख्यालय के घेराव के दौरान जिला अध्यक्ष जंयति पटेल ने कहा कि, पुलिस कर्मियों ने भाजपा कार्यकर्ताओं नेताओं के साथ धक्का-मुक्की की है। हमारे नेताओं और कार्यकर्ताओं को भी चोट आई है। हमारी शिकायतों पर FIR दर्ज नहीं की जाती। इस तरह की FIR से हम डरने वाले नहीं है। हम जनता के हित के मुद्दों को उठाते रहेंगे। RAIPUR प्रदर्शन के दौरान हो सकता है कि किसी के साथ कोई घटना हुई हो मगर शासकीय कार्य में बाधा और तोड़-फोड़ का बहाना बताकर केस किया जा रहा है ये ठीक नहीं है।

RAIPUR
RAIPUR

महापौर और आयुक्त के खिलाफ नारेबाजी

गुरुवार को भाजपा ने शहर के 70 वार्डों की समस्याओं को लेकर रायपुर नगर निगम का घेराव किया. घेराव के दौरान पुलिसकर्मियों और महिला डीएसपी के साथ भाजपाइयों की झूमाझटकी और मारपीट हुई. शासकीय संपत्ति को भी नुकसान पहुंचा. RAIPUR मामले में जोन 4 जोन कमिश्नर विनय मिश्रा की शिकायत पर राजधानी के कोतवाली थाना में 60 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है.

Also read :https://bulandhindustan.com/6852/bye-bye-2022/

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button