स्वास्थ्य

COVID 19 : केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लिया..

COVID 19 : केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लिया..

PUBLISHED BY-PIYUSH NAYAK

COVID 19 : कोविड महामारी की नई लहर की आशंका को देखते हुए केंद्र सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। सरकार ने एक जनवरी से चीन समेत इन देशों से आने वाले यात्रियों के लिए RT-PCR टेस्ट अनिवार्य कर दिया है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने गुरुवार को इस फैसले की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि चीन, हांगकांग, जापान, दक्षिण कोरिया, सिंगापुर और थाईलैंड से भारत आने वाले यात्रियों को एक जनवरी से निगेटिव कोविड टेस्ट रिपोर्ट देना जरूरी होगा।

COVID 19
COVID 19

मंडाविया ने कहा कि इन जगहों से आने वाले यात्रियों को फ्लाइट पकड़ने से पहले एयर सुविधा पोर्टल पर आरटी-पीसीआर टेस्ट की निगेटिव कोविड रिपोर्ट अपलोड करनी होगी। उन्होंने कहा कि यात्रा के 72 घंटों के भीतर कोविड टेस्ट कराना होगी। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि अभी भारत आने वाले सभी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए एयरपोर्ट पर रैंडम टेस्टिंग जरूरी की गई है, लेकिन यात्रियों के फ्लाइट पकड़ने से पहले ही आरटी-पीसीआर रिपोर्ट जमा कराने की जरूरत है। गौरतलब है कि भारत सरकार ने कुछ देशों में कोरोना वायरस के मामलों में उछाल के बाद अलर्ट जारी किया है और कोविड दिशा-निर्देशों को सख्त कर दिया है। साथ ही राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को किसी भी स्थिति के लिए तैयार रहने को कहा गया है।

24 घंटों में कोरोना संक्रमण के 268 नए मामले

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के गुरुवार को जारी ताजा आंकड़ों के अनुसार, 24 घंटों में भारत में कोरोना संक्रमण के 268 नए मामले दर्ज किए गए, जिसके बाद सक्रिय मामले बढ़कर 3,552 हो गए। COVID 19 मंत्रालय ने कहा कि देश में कोरोना की दैनिक संक्रमण दर 0.11 प्रतिशत दर्ज की गई।

COVID 19
COVID 19

जनवरी में बढ़ सकते हैं कोविड के मामले

स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने आगाह किया है कि भारत के लिए अगले 40 दिन महत्वपूर्ण होने वाले हैं, क्योंकि जनवरी में कोविड के मामलों में उछाल देखने को मिल सकता है। एक अधिकारी ने कहा कि यह प्रवृत्ति रही है कि पूर्वी एशिया में दस्तक देने के लगभग 30-35 दिनों के बाद कोविड महामारी की नई लहर भारत में आती है। COVID 19 सूत्रों का कहना है कि अगर कोविड महामारी की नई लहर आती भी है, तो मृत्यु और अस्पताल में भर्ती होने की दर बहुत कम होगी।

Also read :https://bulandchhattisgarh.com/9758/year-ender-2022/

चीन में अभी कोरोना लहर से और मचेगी तबाही

एक अन्य डॉक्टर जटार्ड-बौरेउ (Jutard-Bourreau) जो कि बीजिंग के एक निजी अस्पताल में मुख्य चिकित्सा अधिकारी हैं उनके अनुसार, मरीजों की संख्या समान्य स्तर से पांच से छह गुना बढ़ी है और मरीजों की औसत उम्र भी 40 साल से बढ़कर 70 साल पार हो गई है. इनमें से ज्यादातर मरीजों को टीका नहीं लगा हुआ है. COVID 19 उन्होंने कहा कि वो लोग वैक्सीन की जगह पर दवा लेना चाहते हैं. बर्नस्टीन की तरह लगभग एक दशक से चीन में डॉक्टर जटार्ड-बौरेउ ने आशंका जताई है कि बीजिंग में इस लहर का सबसे बुरा दौर आना अभी बाकी है.

कोरोना से चीन बेहाल

डॉक्टर ने कहा कि देश में कोरोना भयानक रूप से फैल रहा है. नाम न छापने की शर्त पर अस्पताल के तीन हेल्थ केयर प्रोफेसनल ने स्काई न्यूज को वेंटिलेटर और ऑक्सीजन मशीन से भरे एक वार्ड की तस्वीर दिखाई जिसमें एक भी बेड खाली नहीं था COVID 19 चीन के शिनजयांग प्रांत के उत्तरी शहर के एक डॉक्टर ने बताया कि अस्पताल का आपातकालीन वार्ड (ईआर) मरीजों से भरा हुआ है. पूरे वार्ड में हर जगह वेंटिलेटर और ऑक्सीजन मशीनें हैं. 

COVID 19
COVID 19

ऐसी तबाही कभी नहीं देखी

राजधानी बीजिंग के एक अस्पताल में डॉक्टर हॉवर्ड बर्नस्टीन के अनुसार, उन्होंने ऐसी स्थिति कभी नहीं देखी थी. बर्नस्टीन का कहना का कहना है अस्पताल में आने वाले मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. COVID 19 उन्होंने कहा कि लगभग सभी बुजुर्ग हैं और कोविड और निमोनिया होने के कारण उनकी तबीयत और ही खराब हैं

Also read : https://bulandhindustan.com/6760/indian-railways/

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button