अंतराष्ट्रीय

खौफनाक : आखिर किस हद तक गिरेगा Pakistan…

पाकिस्तान के अस्पताल का खौफनाक मंजर, तालिबान भी बोला- यह कसाइयों का देश है

( PUBLISHED BY – SEEMA UPADHYAY )

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने पाकिस्तान को खतरनाक बताया। आलम यह है कि इस्लामिक कट्टरपंथी संगठन तालिबान भी पाकिस्तान की खूब सुन रहा है। तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान (टीटीपी) ने मुल्तान इलाके के एक सरकारी अस्पताल में मिले सड़े-गले शवों को लेकर कहा है कि वह कसाइयों का देश है. सूत्रों के मुताबिक टीटीपी ने इसके लिए पाकिस्तानी सरकार को जिम्मेदार ठहराया है। कुछ रिपोर्टों में कहा गया है कि पाकिस्तान के एक अस्पताल में 200 शव खराब हालत में मिले।

US President Joe Biden called Pakistan dangerous. Alam is that the Islamic fundamentalist organization Taliban is also listening to Pakistan a lot. Tehreek-e-Taliban Pakistan (TTP) has said that it is a country of butchers, regarding the decomposed bodies found in a government hospital in Multan area. According to sources, the TTP has blamed the Pakistani government for this. Some reports say that 200 bodies were found in a deteriorating condition in a hospital in Pakistan.

यह अनुमान लगाया जाता है कि जिन लोगों के शव मिले थे, वे बलूच या पश्तून हो सकते हैं जिन्हें पाकिस्तानी सेना ने अगवा कर लिया था। News18 की रिपोर्ट के मुताबिक, इन शवों को पाकिस्तानी पंजाब के निश्तार अस्पताल से बरामद किया गया है. कई शव ऐसे थे जिनके अंग निकाल दिए गए थे।

It is speculated that the people whose bodies were found may have been Baloch or Pashtun who were abducted by the Pakistani army. According to the report of News18, these bodies have been recovered from Nishtar Hospital in Pakistani Punjab. There were many dead bodies whose organs were removed.

एक डॉक्टर ने कहा कि शवों पर मिले सलवारों से पता चलता है कि वे या तो बलूच थे या पश्तून। उनके कद और शरीर की संरचना से भी पता चलता है कि वे पहाड़ी इलाकों के निवासी थे। नाम न छापने की शर्त पर उन्होंने यह भी बताया था कि इन शवों का डीएनए टेस्ट नहीं किया जाएगा. सरकार मामले को दबाने की कोशिश कर रही है।

A doctor said the salwars found on the bodies showed that they were either Baloch or Pashtun. Their stature and body structure also suggest that they were inhabitants of hilly areas. On the condition of anonymity, he had also told that the DNA test of these dead bodies will not be done. The government is trying to suppress the matter.

टीटीपी ने कहा है कि पाकिस्तान कसाइयों का देश बन गया है जहां किसी की जान की कद्र नहीं है. विशेष रूप से बलूच और पश्तूनों के साथ बहुत बुरा व्यवहार किया जाता है। बलूच और पश्तूनों के लिए पाकिस्तान की मंशा नापाक है। टीटीपी ने यह भी कहा कि इन लोगों के अंगों को बेचकर गंदा पैसा कमाया गया है। पिछले कुछ वर्षों में बहुत सारे पश्तून और बलूच गायब हो गए हैं। शवों का इस तरह से इलाज करना भी शरीयत के खिलाफ है।

TTP has said that Pakistan has become a country of butchers where no one’s life is valued. Balochs and Pashtuns in particular are treated very badly. Pakistan’s intentions for Baloch and Pashtuns are nefarious. The TTP also said that dirty money has been earned by selling the organs of these people. A lot of Pashtuns and Balochs have disappeared in the last few years. It is also against the Shariat to treat dead bodies in this way.

दरअसल, मुख्यमंत्री के सलाहकार चौधरी जमां गुर्जर ने निश्तार अस्पताल का दौरा किया था. अस्पताल की मोर्चरी में जमीन पर पड़े शव मिले। एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक, गुर्जर ने कहा कि एक शख्स ने उनसे कहा कि अगर आप सच में यहां इसके बारे में पता लगाने आए हैं तो एक बार मुर्दाघर में जाकर देख लीजिए. उन्होंने कहा कि जब वह मुर्दाघर के बाहर पहुंचे तो वहां के कर्मचारी दरवाजा खोलने को तैयार नहीं थे.

In fact, Chaudhary Zaman Gurjar, Advisor to the Chief Minister, had visited Nishtar Hospital. Dead bodies lying on the ground were found in the mortuary of the hospital. According to the report of ANI, Gurjar said that a person told him that if you have really come here to find out about it, then go to the morgue once and have a look. He said that when he reached outside the morgue, the staff there were not ready to open the door.

उन्होंने कहा, मैंने कर्मचारियों से कहा कि अगर अभी दरवाजा नहीं खोला गया तो उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई जाएगी। जब मुर्दाघर खोला गया तो वहां का नजारा भयावह था। 200 से ज्यादा शव इधर-उधर पड़े थे। सभी शव सड़ रहे थे और किसी भी शरीर में कपड़े नहीं थे। इस बारे में जब डॉक्टरों से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि इन शवों का इस्तेमाल छात्र पढ़ाई के लिए करते हैं. पंजाब के सीएम परवेज इलाही ने शुक्रवार को जांच के लिए एक उच्च स्तरीय टीम का गठन किया।

“I told the employees that if the door is not opened now, an FIR will be lodged against them,” he said. When the morgue was opened, the view there was appalling. More than 200 bodies were lying here and there. All the bodies were rotting and none of the bodies had clothes. When the doctors were asked about this, they said that these dead bodies are used by the students for studies. Punjab CM Pervez Elahi on Friday constituted a high-level team to investigate.

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button