अंतराष्ट्रीय
Trending

9/11 हमले : जब एक हमले से दहल गयी पूरी दुनिया

America News: अमेरिका पर हमले से दहल गई थी पूरी दुनिया, 9/11 हमले को आज हो गए 21 साल

( PUBLISHED BY – SEEMA UPADHYAY )

दुनिया की पुलिस कहे जाने वाले सबसे ताकतवर देश अमेरिका पर 21 साल पहले आज ही के दिन यानि 11 सितंबर को हमला हुआ था. इस हमले से न सिर्फ अमेरिका बल्कि पूरी दुनिया हिल गई थी. किसी ने कभी नहीं सोचा था कि कड़ी सुरक्षा वाले देश में कोई वर्ल्ड ट्रेड सेंटर की इमारत से गुजर रहे विमान से टकरा जाएगा।

इस बड़े हादसे का अमेरिका पर भी दूरगामी असर पड़ा। अमेरिका की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़ा हो गया है. आतंकवादियों ने इमारतों पर विमानों को निशाना बनाया था। इस वीभत्स घटना के 21 साल पूरे होने पर अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन और उनकी पत्नी जिल बाइडेन और उपराष्ट्रपति कमला हैरिस हमले के पीड़ितों के सम्मान और उन्हें याद करने के लिए एक नया कदम उठाने जा रहे हैं. इसके तहत वे देश भर में यात्रा करेंगे।

हमले में मारे गए थे 2977 लोग

इस दिन को अमेरिका के लिए काला दिन कहा जा सकता है। यह अमेरिकी इतिहास का सबसे बड़ा आतंकवादी हमला था जिसे अल कायदा ने अंजाम दिया था। अफगानिस्तान में बैठकर ओसाबा बिन लादेन ने इसके लिए पूरी साजिश रची थी। यह हमला न केवल वर्ल्ड ट्रेड सेंटर में किया गया था, बल्कि अमेरिका की प्रतिष्ठा और उसकी साख पर भी हमला था।

आतंकियों की ओर से 4 हमले हुए, इन हमलों में 2977 लोग मारे गए। इनमें 19 अपहरणकर्ता आतंकवादी शामिल हैं। मारे गए लोगों में चार विमानों में सवार 246 यात्री, वर्ल्ड ट्रेड सेंटर और उसके आसपास 2606 और पेंटागन में 125 लोग शामिल थे। मारे गए लोगों में ज्यादातर नागरिक थे। वहीं, राहत एवं बचाव अभियान के दौरान 344 बचावकर्मी, 71 पुलिसकर्मी और सेना के 55 जवान भी मारे गए।

ओसामा बिन लादेन था जिम्मेदार, बनाई थी पूरी रणनीति

इन हमलों के लिए ओसामा बिन लादेन जिम्मेदार था। जो कई साल बाद ओबामा के कार्यकाल में मारा गया था, जो पाकिस्तान में छिपा हुआ था। इस ओसामा बिन लादेन ने आतंकी हमले को अंजाम देने की रणनीति तैयार की थी। इसके तहत उसने 19 आतंकियों को इसमें शामिल किया था।

इन आतंकियों ने अमेरिकी विमानों को हाईजैक किया और फिर वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर दुर्घटनाग्रस्त हो गए। दोनों इमारतों में दो अलग-अलग विमान दुर्घटनाग्रस्त, जिसमें हजारों लोग मारे गए। वहीं सैकड़ों लोग गंभीर रूप से घायल हो गए।

आखिर क्या हुआ था उस दिन?

11 सितंबर 2001 की सुबह अल कायदा आतंकवादी संगठन के आतंकवादियों द्वारा चार विमानों का अपहरण कर लिया गया था। उनका मकसद विमान को अलग-अलग ऐतिहासिक जगहों पर ले जाकर क्रैश करना था. पहला विमान हादसा अमेरिकन एयरलाइंस की फ्लाइट 11 में हुआ, जो न्यूयॉर्क शहर में सुबह 8.46 बजे वर्ल्ड ट्रेड सेंटर के नॉर्थ टॉवर से टकराया।

ठीक 17 मिनट बाद यूनाइटेड एयरलाइंस की फ्लाइट 175 साउथ टॉवर से टकरा गई। वहीं, करीब 9.37 बजे अमेरिकन एयरलाइंस की फ्लाइट 77 वाशिंगटन में अमेरिकी रक्षा मंत्रालय पेंटागन से टकरा गई। चौथी हाईजैक फ्लाइट 93 का उद्देश्य व्हाइट हाउस या यूएस कैपिटल बिल्डिंग से टकराना था, लेकिन यात्रियों से लड़ने के कारण आतंकवादी विमान से नियंत्रण खो बैठे और पेन्सिलवेनिया के शैंक्सविले में एक मैदान में उतर गए।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button