Jannah Theme License is not validated, Go to the theme options page to validate the license, You need a single license for each domain name.
मनोरंजन

A.R. Rahman : आज ए. आर रहमान का 56वां जन्मदिन..

A.R. Rahman : आज ए. आर रहमान का 56वां जन्मदिन.

PUBLISHED BY-PIYUSH NAYAK

A.R. Rahman : 2 ऑस्कर, 2 ग्रैमी और दर्जनों अवॉर्ड जीतने वाले सिंगर औऱ कंपोजर ए.आर. रहमान आज 56 साल के हो चुके हैं। आज दुनियाभर में अपने हुनर से नाम कमाने वाले ए. आर. रहमान का बचपन बेहद गरीबी और पिता की नामौजूदगी में मुश्किल रहा। 9 साल की उम्र में पिता के गुजरने के बाद आर्थिक जिम्मेदारी उठाई। जिम्मेदारियां ऐसी कि कम उम्र में ही पढ़ाई छोड़नी पड़ी। वहीं एक समय ऐसा भी रहा जब ए.आर. रहमान को आत्महत्या करने का ख्याल आता था। मजबूरी से शुरू हुआ म्यूजिकल सफर उन्हें कामयाबी की राह पर ले गया। आज ए.आर. रहमान भारत के सबसे बेहतरीन कंपोजर्स और सिंगर्स में से एक हैं।

A.R. Rahman
A.R. Rahman

4 साल की उम्र में पिता ने सिखाया पियानो बजाना

ए.आर. रहमान का जन्म तमिलनाडु में हुआ था। उनके पिता आरके शेखर एक फिल्म स्कोर कंपोजर थे। पिता ने 4 साल की उम्र में रहमान को भी पियानो बजाना सिखा दिया। जब रहमान 9 साल के हुए तो उनके पिता गुजर गए। A.R. Rahman पिता के जाने के बाद परिवार को गरीबी का सामना करना पड़ा। घर चलाने के लिए रहमान की मां उनके पिता के म्यूजिक इंट्रुमेंट्स किराए पर देती थीं। क्योंकि रहमान वो इंट्रुमेंट्स चलाना जानते थे, इसलिए उन्हें भी साथ जाना पड़ता था। इंट्रुमेंट्स ऑपरेट करते हुए उन्हें पहली कमाई के रूप में 50 रुपए मिले थे।

A.R. Rahman
A.R. Rahman

स्कूल प्रिंसिपल ने मां से कहा था- सड़कों पर भीख मांगो

आर्थिक जिम्मेदारी आने पर रहमान का ध्यान पढ़ाई की तरफ से हटने लगा। अटेंडेंस कम होती चली गईं और ये एग्जाम में फेल होने लगे। साल 2012 में दिए एक इंटरव्यू में ए.आर. रहमान ने बताया कि एग्जाम में फेल होने के बाद स्कूल प्रिंसिपल ने उनकी मां को मिलने बुलाया और शिकायत की। A.R. Rahman जब मां ने उन्हें आर्थिक तंगी का हवाला दिया तो प्रिंसिपल ने उनसे कहा था कि इस लड़के अब कभी स्कूल मत भेजना और इसे सड़कों पर लेकर भीख मांगो।

Also read : https://bulandchhattisgarh.com/10162/tunisha-sharma/Tunisha Sharma: आखिरी बार शीज़ान की माँ से तुनिशा ने कही थी ये 1 दर्दनाक बात…

कम उम्र में छोड़ दी थी पढ़ाई

प्रिंसिपल द्वारा जलील होने के बाद ए.आर. रहमान ने वो स्कूल छोड़ दिया और एम.सी.एन स्कूल में दाखिला लिया, जहां उन्होंने एक छोटा सा बैंड भी बनाया था। रहमान के लिए म्यूजिक और पढ़ाई के बीच तालमेल बैठा पाना मुश्किल हो रहा था, A.R. Rahman तो उन्होंने मां की सलाह लेकर 15 साल की उम्र में पढ़ाई छोड़ दी।

A.R. Rahman
A.R. Rahman

20 साल की उम्र में बदला धर्म और नाम

ए.आर. रहमान का जन्म एक हिंदु परिवार में हुआ था। माता-पिता ने इन्हें दिलीप कुमार दिया था। जब रहमान 20 साल के हुए तो उन्होंने अपना नाम और धर्म बदलने के फैसला किया। कारण था उनकी मां का इस्लाम की तरफ प्रभावित होना। A.R. Rahman इस्लाम कबूल कर 20 साल की उम्र में रहमान, दिलीप कुमार से ए.आर. रहमान बन गए।

अपने पुराने नाम से नफरत करते हैं ए.आर. रहमान

रहमान को दिलीप नाम उनके दर्दभरे अतीत के दिनों को याद दिलाता है, इसलिए उन्हें वो नाम पसंद नहीं है। A.R. Rahman जब ए.आर. रहमान की बायोग्राफी लिखी जा रही थी तो उन्होंने खुद राइटर से कहा था कि पूरी किताब में उनका नाम सिर्फ एक ही जगह दिलीप लिखा जाए, बाकी जगह सिर्फ ए.आर. रहमान या रहमान लिखा जाए।

Also read : bulandhindustan.com/7057/rishbh-pant-2/Rishbh Pant : लंदन में हो सकती है पंत के लिगामेंट की सर्जरी..

25 साल की उम्र में बार-बार आत्महत्या करने की सोचते थे रहमान

म्यूजिक से जुड़े छोटे-मोटे काम करते हुए 25 साल की उम्र में रहमान अपनी जिंदगी से बेहद निराश थे। वो अकसर आत्महत्या करने के बारे में सोचते थे। A.R. Rahman हालांकि इसी बीच उन्होंने अपने घर के आंगन में एक छोटा सा रिकॉर्डिंग स्टूडियो बनाया और फिर यहां से उनकी कामयाबी का सफर शुरू हो गया।

A.R. Rahman
A.R. Rahman

मणि रत्नम की नजर पड़ते ही मिली पहली फिल्म

करियर के शुरुआत में उन्होंने कई डॉक्यूमेंट्री के लिए म्यूजिक कंपोज किए। आगे उन्होंने कई एड और जिंगल्स भी बनाए। एक बार टाइटन के लिए बनाए गए उनके एक जिंगल पर साउथ के एक फिल्ममेकर मणिरत्नम की नजर पड़ी। A.R. Rahman मणि को रहमान का काम इतना पसंद आया कि उन्हें रोजा फिल्म ऑफर कर दी।

1992 में रखा फिल्मी दुनिया में कदम

तमिल फिल्म रोजा से ए.आर. रहमान ने फिल्म इंडस्ट्री में कदम रखा था। इसके बाद 1992 में सिनेमैटोग्राफर संतोष सिवन ने रहमान को उनकी दूसरी फिल्म योद्धा के लिए साइन किया। A.R. Rahman बॉलीवुड में म्यूजिक कंपोजर के रूप में उनकी पहली फिल्म रंगीला थी जिसने काफी पॉपुलैरिटी हासिल की।

A.R. Rahman
A.R. Rahman

1995 में आई रंगीला से शुरू हुआ हिंदी सिनेमा का सफर

हिंदी सिनेमा में उनकी पहली फिल्म रंगीला थी। इस फिल्म में उन्होंने आमिर खान, उर्मिला, शैफाली शाह और जैकी श्रॉफ जैसे एक्टर्स के साथ काम किया। A.R. Rahman इसके बाद रहमान ने ताल, लगान, वन टू का फोर, साथिया, युवा, स्वदेश, रंग दे बसंती, रावण, स्वदेश और रॉकस्टार जैसी फिल्मों में भी काम किया।

27 साल की उम्र में की थी 6 साल छोटी सायरा से शादी

1995 में 27 साल की उम्र में ए.आर. रहमान ने सायरा से अरेंज मैरिज की थी। शादी के वक्त सायरा 21 साल की थी। A.R. Rahman इस शादी में उनके तीन बच्चे हुए।

A.R. Rahman
A.R. Rahman

प्रोड्यूसर के तौर पर भी किया है काम

प्रोड्यूसर के रूप में ए.आर. रहमान की पहली फिल्म 2019 में आई 99 सॉन्ग्स थी। 99 सॉन्ग्स एक म्यूजिकल रोमांस फिल्म है, जिसे ए.आर. रहमान ने खुद लिखा और प्रोड्यूस किया था। ये डॉल्बी एटमॉस तकनीक का इस्तेमाल करने वाली पहली भारतीय साउंडट्रैक एल्बम है और इसे बना कर रहमान इस तकनीक में फिल्म का A.R. Rahman संगीत एल्बम बनाने वाले पहले भारतीय कलाकार बन गए।

विवादों से भी रहा है ए.आर. रहमान का नाता

2022 में गृह मंत्री अमित शाह ने हिंदी को इंग्लिश के विकल्प में यूज करने की बात कही थी। इस बात पर ए.आर. रहमान ने तमिल के महत्व और तमिलियंस के लिए इसकी मान्यता को दर्शाने वाला एक बैनर ट्वीट किया था। उस ट्वीट में लिखा था कि – ‘तमिल बोलना हमारा अधिकार हैं।’ रहमान का ये ट्वीट सोशल मीडिया पर बहुत वायरल हुआ था। A.R. Rahman काफी कम समय में इसे 13 हजार से ज्यादा लोगों ने रीट्वीट किया।

A.R. Rahman
A.R. Rahman

130 अवॉर्ड से नवाजे गए हैं ए.आर.रहमान

ए.आर. रहमान ने कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय अवार्ड जीते हैं। उन्होंने 2 ऑस्कर अवार्ड, 6 नेशनल फिल्म अवार्ड, 15 फिल्मफेयर अवार्ड, 17 फिल्मफेयर साउथ अवार्ड और 2 ग्रैमी अवार्ड जीते हैं। A.R. Rahman इसके अलावा 2010 में उन्हें पद्म भूषण से भी नवाजा गया था। उन्हें अभी तक कुल 138 अवार्ड मिल चुके हैं।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button