अंतराष्ट्रीय

अब रूस के साथ मिलकर ये देश लाएगा तबाही……

रूस को लड़ने की ट्रेनिंग दे रहा ईरान:US बोला- ईरानी सैनिक रूसी सेना को कामीकाजे ड्रोन चलाना सिखा रहे

PUBLISHED BY – SEEMA UPADHYAY

रूस-यूक्रेन युद्ध पिछले 8 महीने से चल रहा है। इस बीच रूस ने अपने हमले तेज करते हुए युद्ध में ईरानी हथियारों का इस्तेमाल शुरू कर दिया है। अब अमेरिका का कहना है कि क्रीमिया में ईरानी सैनिक रूसी सैनिकों को युद्ध लड़ने की ट्रेनिंग दे रहे हैं।

The Russia-Ukraine war has been going on for the last 8 months. Meanwhile, Russia has started using Iranian weapons in the war, intensifying its attacks. Now the US says that Iranian soldiers in Crimea are training Russian soldiers to fight war.

व्हाइट हाउस ने बयान जारी कर कहा- रूसी सेना की मदद के लिए ईरानी सैनिकों को क्रीमिया भेजा गया था। वह रूसी सैनिकों को ड्रोन चलाना सिखा रहा है। इसके बाद से यूक्रेन पर हमले तेज हो गए। दरअसल, ईरान ने रूस को कामिकेज़ ड्रोन भेजे हैं। 4 दिन पहले यानि 17 अक्टूबर को कीव पर ड्रोन से हमला किया गया था।

The White House issued a statement saying – Iranian soldiers were sent to Crimea to help the Russian army. He is teaching Russian soldiers to operate drones. Since then the attacks on Ukraine intensified. Actually, Iran has sent kamikaze drones to Russia. Four days ago i.e. on October 17, Kyiv was attacked with a drone.

ईरान का रूस-यूक्रेन जंग से है डायरेक्ट कनेक्शन ( Iran has direct connection with Russia-Ukraine war )

अमेरिकी रक्षा विभाग पेंटागन के प्रवक्ता जॉन केर्बी ने कहा- क्रीमिया में ईरानी सैनिकों की मौजूदगी युद्ध में ईरान की सीधी भागीदारी का सबूत है। वे रूस को यूक्रेन के नागरिकों और बुनियादी ढांचे पर ड्रोन हमले करने में मदद कर रहे हैं। क्रीमिया वही क्षेत्र है जिस पर रूस ने 2014 में कब्जा कर लिया था।

US Defense Department Pentagon spokesman John Kerby said – the presence of Iranian troops in Crimea is evidence of Iran’s direct involvement in the war. They are helping Russia conduct drone strikes on Ukrainian citizens and infrastructure. Crimea is the same territory that Russia annexed in 2014.

कीव पर ईरानी ड्रोन से हमला, 3 लोगों की मौत ( Iranian drone attack on Kyiv, 3 killed )

17 अक्टूबर को रूस ने यूक्रेन की राजधानी कीव पर ईरान से खरीदे गए कामिकेज़ ड्रोन से हमला किया। इस हमले में 3 लोगों की मौत हो गई थी. हमले में इस्तेमाल किए गए कामिकेज़ ड्रोन का नाम शाहिद-136 था। इस ड्रोन को ईरान का सबसे खतरनाक हथियार माना जाता है। इस ईरानी ड्रोन को सुसाइड ड्रोन भी कहा जाता है। इसका वजन 200 किलो है। इस ड्रोन की रेंज 2500 किमी है।

On October 17, Russia attacked the Ukrainian capital of Kyiv with a kamikaze drone purchased from Iran. 3 people were killed in this attack. The name of the kamikaze drone used in the attack was Shahid-136. This drone is considered Iran’s most dangerous weapon. This Iranian drone is also called suicide drone. Its weight is 200 kg. The range of this drone is 2500 km.

Buland Hindustan

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
गुप्त नवरात्रि पूजा विधि Avatars of lord shiva Stationery essential that every student must have MAANG TIKKA Benefits of curd गणेश जी को अर्पित करे ये चीज़ Most Mysterious Places In India 10 Greatest Lamborghini cars ever made शुक्रवार के दिन करे यह 10 उपाय 10 unusual fruits