Uncategorized

जानिए क्यों मनाया जाता है विश्व जनसँख्या दिवस ?

( published by – Seema Upadhyay )

जनसंख्या नियंत्रण के उद्देश्य से हर साल 11 जुलाई को विश्व जनसंख्या दिवस मनाया जाता है। जनसंख्या नियंत्रण एक आवश्यक कदम है। इसी को ध्यान में रखते हुए संयुक्त राष्ट्र ने इस दिन को मनाना शुरू किया।

  • जानिए कब हुयी विश्व जनसँख्या दिवस की शुरुवात ?

आपको बता दें कि 11 जुलाई 1987 को वैश्विक आबादी 5 अरब तक पहुंच गई थी। जिसके बाद 11 जुलाई 1989 को संयुक्त राष्ट्र में जनसंख्या नियंत्रण और परिवार नियोजन के प्रति लोगों में जागरूकता लाने के लिए एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दिन पहली बार विश्व जनसंख्या दिवस मनाया गया था। दिसंबर 1990 में इसे आधिकारिक बना दिया गया था। इस दिन बढ़ती आबादी को नियंत्रित करने के लिए कई कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं।

  • आखिर क्या है विश्व जनसँख्या दिवस का महत्व ?

हर साल इस दिन जनसंख्या नियंत्रण उपायों पर चर्चा की जाती है। यह दिन हमें बढ़ती आबादी के कारण होने वाली समस्याओं के बारे में जागरूक करने के लिए मनाया जाता है। भारत चीन के बाद दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा आबादी वाला देश है। अनुमानों के अनुसार, विश्व की जनसंख्या 2030 तक 8.5 बिलियन और 2050 तक 9 बिलियन और 2100 तक 10.9 बिलियन हो जाएगी। जनसंख्या में यह वृद्धि इसलिए होती है क्योंकि प्रजनन आयु तक पहुंचने वाले व्यक्तियों की संख्या अधिक होती है। इतनी आबादी के लिए दुनिया के पास संसाधन नहीं हैं, इसलिए जनसंख्या नियंत्रण जरूरी है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button