छत्तीसगढ़
Trending

Amarnath में फंसे छत्तीसगढ़ के तीर्थ यात्रियों की सहायता के लिए शासन ने जारी किया यह हेल्पलाइन नंबर

रायपुर | (Chhattisgarh helpline for people affected by Amarnath Cloud Burst) जम्मू कश्मीर के अमरनाथ में एक बार फिर विपदा आ पड़ी है. जहाँ अधिकारियों ने बताया कि बादल फटने से अचानक आई बाढ़ में कम से कम 15 लोगों की मौत हो गई. वही अमरनाथ की पवित्र गुफा के पास से करीब 15,000 तीर्थयात्रियों को सुरक्षित निकाल लिया गया है. अधिकारियों ने बताया कि 40 से अधिक लोग अब भी लापता हैं.

इस बीच मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश पर छत्तीसगढ़ शासन द्वारा अमरनाथ हादसे में फंसे छत्तीसगढ़ के तीर्थ यात्रियों की सहायता के लिए दो हेल्पलाइन नंबर जारी किए गए है.

(Chhattisgarh helpline for people affected by Amarnath Cloud Burst) इनमें नई दिल्ली स्थित छत्तीसगढ़ सदन के रेजिडेंट कमिश्नर गणेश मिश्रा का मोबाइल नंबर+919997060999 और छत्तीसगढ़ सदन का हेल्पलाइन नंबर 01146156000 है.

आपदा में फंसे तीर्थयात्री या उनके परिजन इन नंबरों में संपर्क कर सूचना दे सकते हैं.

भारतीय सेना और भारत-तिब्बत सीमा पुलिस, या ITBP ने रात भर बचाव अभियान जारी रखा. उन्होंने अमरनाथ गुफा स्थल पर बादल फटने से प्रभावित इलाकों में लापता लोगों की तलाश जारी रखी है. एक अधिकारी ने कहा कि राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (NDRF) के पास तीन टीमें हैं जिनमें लगभग 75 बचाव दल शामिल हैं.

अधिकारियों के अनुसार, शाम करीब साढ़े पांच बजे बादल फटने की सूचना मिली, जिससे अचानक बाढ़ आ गई. मंदिर के बाहर बेस कैंप प्रभावित हुआ, 25 टेंट और तीन कम्युनिटी किचन क्षतिग्रस्त हो गए है, जहां तीर्थयात्रियों को भोजन परोसा जाता है. पवित्र गुफा में स्वचालित मौसम केंद्र के अनुसार शाम साढ़े चार बजे से शाम साढ़े छह बजे तक क्षेत्र में 31 मिमी बारिश हुई.

43 दिवसीय अमरनाथ यात्रा तीन साल के  बाद 30 जून को शुरू हुई थी. 2019 में, केंद्र द्वारा संविधान के सेक्शन 370 के प्रावधानों को निरस्त करने से पहले यात्रा को बीच में ही रद्द कर दिया गया था. तीर्थयात्रा 2020 और 2021 में कोविड महामारी के कारण नहीं हुई थी.

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button